होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय की बड़ी पहल, जानिए क्या है प्रोजेक्ट पार्क वैल

  1. Home
  2. राजनीति

होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय की बड़ी पहल, जानिए क्या है प्रोजेक्ट पार्क वैल

होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय की बड़ी पहल, जानिए क्या है प्रोजेक्ट पार्क वैल

देहरादून, 22 सितंबर (आईएएनएस)। होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय द्वारा आम जनमानस को अपने वाहन को सही ढंग से पार्क किये जाने हेतु प्रोत्साहित एवं जागरूक करने के उद्देश्य से एक नयी एवं अनूठी पहल जनपद देहरादून से शुरू की गयी है। जिसका नाम है प्रोजेक्ट पार्क वैल। प्रोजेक्ट पार्क वैल के अन्तर्गत कोई भी व्यक्ति अलग अलग स्थानों पर पार्क किये गये अपने वाहन के 50 चित्रों को विभागीय व्हाट्स एप नम्बर 9458950814 पर भेज सकेगा।


देहरादून, 22 सितंबर (आईएएनएस)। होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय द्वारा आम जनमानस को अपने वाहन को सही ढंग से पार्क किये जाने हेतु प्रोत्साहित एवं जागरूक करने के उद्देश्य से एक नयी एवं अनूठी पहल जनपद देहरादून से शुरू की गयी है। जिसका नाम है प्रोजेक्ट पार्क वैल। प्रोजेक्ट पार्क वैल के अन्तर्गत कोई भी व्यक्ति अलग अलग स्थानों पर पार्क किये गये अपने वाहन के 50 चित्रों को विभागीय व्हाट्स एप नम्बर 9458950814 पर भेज सकेगा।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्डस केवल खुराना के द्वारा निर्देशित किया गया है। कि उक्त योजना को अधिक आकर्षक और व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाये एवं योजना में पाकिर्ंग व्यवस्था सु²ढ़ किये जाने हेतु होमगार्डस एवं नागरिक सुरक्षा विभाग के स्वयंसेवकों को अवगत कराया जाये कि वे ट्रैफिक नियंत्रण में तैनाती के दौरान वाहन पाकिर्ंग में बुजुर्ग एवं महिलाओं की सहायता करेंगे तथा पार्क किये वाहनों की फोटो प्रेषित करने में सम्बन्धित व्यक्ति की मदद करेंगे। पाकिर्ंग स्थलों पर निर्धारित पाकिर्ंग शुल्क से अधिक शुल्क न लिये जाने के सम्बन्ध में जागरूक करेंगे। होमगार्डस स्वयंसेवकों की महत्वपूर्ण पाकिर्ंग स्थलों के समीप तैनाती की जाती है, ऐसे पाकिर्ंग स्थलों में लम्बे समय से खड़ी गाड़ियों के सम्बन्ध में सूचित करेंगे।

प्रोजेक्ट पार्क वैल के अन्तर्गत कोई भी व्यक्ति व्यवस्थित पार्क किये गये अपने वाहन के 50 चित्रों को प्रेषित करेगा, उसे प्रशंसा प्रमाण पत्र दिया जायेगा एवं उसके द्वारा त्रुटिवश किये गये अगले किसी यातायात नियमों के उल्लंघन पर प्रदत्त चालान माफ किया जायेगा। यह योजना उसके परिवार के किसी एक सदस्य हेतु भी लागू होगी। इस प्रकार प्राप्त प्रशंसा प्रमाण-पत्र डिजी लॉकर में संरक्षित किये जा सकेंगे। कोई भी व्यक्ति नो पाकिर्ंग परिक्षेत्र में लगी गाड़ियों के 50 चित्रों को उपरोक्त व्हाट्स एप नम्बर पर प्रेषित करने पर भी उपरोक्तानुसार चालान माफ किया जायेगा। उक्त योजना से सही ढंग से वाहनों को खड़ा करने एवं यातायात नियमों का पालन करने के लिये उत्साहित करेंगी।

शुरूवात में योजना को व्हाट्स नम्बर में माध्यम से शुरू किया जा रहा है, उसके उपरान्त योजना को मोबाईल एप्लीकेशन के माध्यम से चलाया जायेगा। एप्लीकशन के माध्यम से चलाने पर आवेदनकर्ता रिकॉर्डस को संरक्षित किये जाने एवं योजना बेहतर ढंग से चलाये जाने में मदद करेगी।

--आईएएनएस

स्मिता/एएनएम