कांग्रेस को भ्रष्टाचार पर बात करने का नैतिक अधिकार नहीं: कर्नाटक सीएम बोम्मई

  1. Home
  2. राजनीति

कांग्रेस को भ्रष्टाचार पर बात करने का नैतिक अधिकार नहीं: कर्नाटक सीएम बोम्मई

कांग्रेस को भ्रष्टाचार पर बात करने का नैतिक अधिकार नहीं: कर्नाटक सीएम बोम्मई

बेंगलुरु, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी, जिसमें हर कदम पर घोटाले होते हैं, उनको भ्रष्टाचार के बारे में बात करने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।


बेंगलुरु, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी, जिसमें हर कदम पर घोटाले होते हैं, उनको भ्रष्टाचार के बारे में बात करने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।

शुक्रवार को यहां राज्य विधानमंडल के दस दिवसीय सत्र के समापन पर मीडिया को संबोधित करते हुए, बोम्मई ने विपक्षी दल पर निशाना साधा, जिसने सत्तारूढ़ भाजपा के खिलाफ भ्रष्टाचार विरोधी अभियान चलाया है। बोम्मई ने तंज कसते हुए कहा, भाजपा ने कांग्रेस के भ्रष्टाचार पर एक किताब का विमोचन किया था और भ्रष्ट होकर वो भ्रष्टाचार पर अभियान चला रहे हैं। उन्होंने कांग्रेस को भाजपा में भ्रष्टाचार पर अपने आरोपों को सबूतों के साथ पेश करने की चुनौती दी और विवरण प्रदान किए जाने पर जांच शुरू करने का वादा किया।

बोम्मई ने कहा, कॉन्ट्रैक्टर्स एसोसिएशन द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों पर विस्तृत जवाब दिया गया है। कांग्रेस सोचती है कि एक बात बार-बार सच हो जाएगी लेकिन वह समय चला गया है। लोग जानते हैं कि सच क्या है। उस एसोसिएशन ने एक साल पहले पत्र लिखा था। शिकायत के साथ सबूत दिए जाने चाहिए।

बहुप्रतीक्षित मंत्रिमंडल विस्तार के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इसे आलाकमान के संज्ञान में लाया गया है और उन्होंने वादा किया है कि यह जल्द से जल्द होगा। बोम्मई ने कहा, हम सत्र खत्म होने का इंतजार कर रहे थे। अगर मुझे चर्चा के लिए दिल्ली बुलाया जाता है, तो प्रक्रिया जल्द ही शुरू हो जाएगी। आलाकमान से मंजूरी मिलने के बाद अगले कुछ दिनों में मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम